New Hindi hot movie 2022 How to download Hindi hot picture

New hindi hot movie 2022 download hindi hot picture

लोनावला में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, दिल्ली और छत्तीसगढ़ की युवतियां पकड़ीं
कहने को तो उसकी कमर में भगवा वस्त्र लिपटा हुआ था पर उसका कुछ फायदा नहीं था क्यूंकी पारदर्शी कपड़ा होने से उसकी छोटी सी सफेद पैंटी साफ दिख रही थी. अब गुरुजी ने आँखें खोली और काजल के माथे में चंदन का टीका लगाया. चाँद की रोशनी में सफेद साड़ी लपेटे हुए नंदिनी सेक्सी लग रही थी. समीर उसके हाथ पकड़े हुए था और कुछ फुसफुसा रहा था.


अब फर्श में ब्लाउज के साथ मेरी सफेद ब्रा और पैंटी लिपटे हुए पड़े थे. मुझे बहुत अटपटा महसूस हो रहा था की अब परिमल उन्हें उठाएगा. परिमल झुका और उन कपड़ों को उठाकर मेरी तरफ घूम गया. मैं इसके लिए तैयार नहीं थी और मुझे बहुत इरिटेशन हुई जब मैंने देखा की मेरे अंतर्वस्त्रों को देखकर उसके दाँत बाहर निकल आए हैं.


रिक्शा की सीट पर नटवर पहले से ही बैठा हुआ था. मुझे रिक्शा में चढ़ते समय छाता पकड़े होने की वजह से अपना बैग उसको देना पड़ा. उसने मेरा बैग पकड़ा और हाथ देकर मुझे रिक्शा में चढ़ा लिया. मेरे बैठते ही रिक्शा वाले ने पॉलिथीन कवर को फैला दिया.


काजल ने धीरे धीरे अपनी छाती से ब्रा हटानी शुरू की और जब उसने ब्रा फर्श में गिरा दी तो उसकी चूचियाँ अनार के दानों जैसी लग रही थीं. उसकी गोरी चूचियाँ कसी हुई थीं और उनमें गुलाबी रंग के निप्पल तने हुए खड़े थे. मैंने ख्याल किया उनकी खूबसूरती देखकर गुरुजी रोमांचित लग रहे थे , 18 बरस की कमसिन लड़की की कसी हुई अनछुई चूचियों को देखकर कौन नहीं होगा. काजल उत्तेजना से सिसकी , जो की स्वाभाविक ही था. गुरुजी ने ऐसा ही दूसरे पैर के साथ भी किया और काजल की पैंटी ज़रूर गीली हो गयी होगी. उसने अपनी आँखें बंद ही रखी थीं और उसके चेहरे पर शरम और कामोत्तेजना के मिले जुले भाव आ रहे थे.


गुरुजी के चूची को चूसने और दबाने से काजल बहुत कामोत्तेजित हो गयी और जोर जोर से सिसकारियाँ लेने लगी. गुरुजी ने काजल की हिलती हुई रसीली चूचियों का अपने मुँह, होठों, जीभ और हाथों से भरपूर आनंद लिया. ऐसा कुछ देर तक चलता रहा और अब काजल हाँफने लगी थी. गुरुजी ने काजल को सांस लेने का मौका नहीं दिया और दाएं हाथ से उसके गोल मुलायम नितंबों को मसलने लगे. गुरुजी के मसलने से काजल के गोरे नितंब लाल हो गये.


काजल का ध्यान कहीं और था , जाहिर था की वो अपने कौमार्यभंग होने की घटना से अभी उबर नहीं पाई थी और उसने ये बात जरूर अपने पेरेंट्स से छुपाई होगी. शायद गुरुजी ने कोई मंत्र जपने को बोला था. अब पहली बार गुरुजी की अँगुलियाँ काजल के बदन के सबसे सेंसिटिव भाग में पहुँच गयीं.
जब उसकी अँगुलियाँ मेरी पैंटी तक पहुँच गयी तो मुझसे अब और सहन नहीं किया गया. मैंने उसके ऊपर को बढ़ते हाथ को पकड़ लिया और उसने अपनी अश्लील हरकत रोक दी. वो तो बस शुरुवात थी और बारिश के दिनों में नटवर का यही रुटीन हो गया.

New hindi sex movie 2022


अचानक वो मेरा रास्ता रोककर खड़ा हो गया. उसकी इस हरकत से मैं हक्की बक्की रह गयी और मेरे बाएं हाथ से स्कर्ट फिसल गयी . मैंने जल्दी से स्कर्ट को पकड़ लिया पर उस कमीने ने मौके का फायदा उठाया और मेरे दाएं हाथ से टॉवेल छीन लिया जिससे मैंने अपनी छाती ढक रखी थी. अब फिर से मेरी छाती नंगी हो गयी हालाँकि चूचियाँ थोड़ा बहुत काजल की ब्रा से ढकी थीं पर हुक ना लग पाने से ब्रा भी खुली हुई ही थी.


मैं सिर्फ़ अंडरगार्मेंट्स में खड़ी थी , इसलिए शोर भी नहीं मचा सकती थी. मेरा दिमाग़ सुन्न पड़ गया और मैं नहीं जानती थी की क्या करूँ ? मैं खुली हुई छोटी ब्रा और गीली पैंटी में , अपनी चूचियों को ढकने के लिए बाँहें आड़ी रखे हुए, उस नौकर के सामने खड़ी रही.
लेकिन जब गुरुजी और काजल , दोनों ने मुड़कर मुझे देखा तो मुझे मुस्कुराना पड़ा. गुरुजी ने अपनी आँखों से काजल की पैंटी की तरफ इशारा किया. मैं तो बाहर से आई थी इसलिए मुझे इन जगहों के बारे में नहीं पता था.

New hindi sex movie 2022 How to download hindi sex picture
गुरुजी काजल के नंगे बदन के ऊपर लेटे हुए थे और उन दोनों की आँखें बंद थीं और रुक रुक कर साँसें चल रही थीं. मैं सोचने लगी की गुरुजी की कोई पत्नी नहीं है वरना हर रात को इस मस्त लंड से मज़े लेती. मैं गुरुजी के लंड से नज़रें नहीं हटा पा रही थी , इतना बड़ा और मोटा था , कम से कम 8 – 9 इंच लंबा होगा.
उसकी हालत देखकर मैं मन ही मन मुस्कुरायी . मेरी खुद की हालत भी देखने लायक नहीं थी इसलिए मैंने जल्दी से साड़ी पहनी और ब्लाउज ठीक करके मंदिर से बाहर आ गयी. मुझे इस विकलांग आदमी को सहारा देना पड़ा पर उसने तुरंत इसका फायदा उठाना शुरू कर दिया. वो मेरे ब्लाउज के कट में गर्दन के नीचे अँगुलियाँ फिराने लगा. मैंने उसके छूने पर ध्यान ना देकर मंदिर की तरफ ध्यान देने की कोशिश की. जैसे ही हम सीढ़ियां चढ़कर मंदिर के फर्श में पहुँचे तो उसका हाथ मेरी पीठ में खिसकते हुए दाएं ब्रा स्ट्रैप पर आ गया.


ये देखकर उसने अपना सिलाई का कपड़ा एक तरफ रख दिया और मेरी तरफ झुककर अपनी अंगुलियों से मेरा दायां गाल पकड़कर हिलाया. गुरुजी – रश्मि, मैं इस बात से सहमत हूँ की ‘महायज्ञ परिधान’ एक औरत के लिए पर्याप्त नहीं है पर मैं इस बारे में कुछ नहीं कर सकता. लेकिन जैसा की मैंने कई बार कहा है तुम्हारा ध्यान लक्ष्य पर होना चाहिए ना की और बातों पर.


उसका नाम नटवर था और वो तब 36 – 37 बरस का रहा होगा. पहले तो हम पैदल चलकर घर वापिस आते थे बाद में मम्मी ने रिक्शा करवा दिया. उसकी पकड़ से छूटकर खड़े होते ही पहला काम मैंने यही किया. जो की उस नौकर के लिए मेरे मन में घृणा , गुस्से और नफ़रत का नतीज़ा था. उसने अपने गाल पर पड़ा मेरा जोरदार तमाचा सहन कर लिया और अपने दाँत भींच लिए. मैंने बेड से साड़ी उठाकर अपने नंगे बदन में लपेट ली.
लिंगा महाराज के ये दोनों प्रतिरूप तुम्हें जाग्रत करेंगे. तुम्हें इस प्रतिरूप से पवित्र द्रव्य को पीना है और साथ ही साथ मैं दूसरे प्रतिरूप को तुम्हारे बदन में घुमाकर तुम्हें ऊर्जित करूँगा. मैंने सफेद साड़ी गुरुजी को दे दी और दूध गरम करने स्टोव के पास चली गयी.

New hindi sex movie 2022


रास्ते में किसी को पता नहीं चल रहा होगा की रिक्शा के अंदर एक लड़की झुकी हुई खड़ी है और उसकी स्कर्ट पीछे से उसके गोल नितंबों तक उठी हुई है. वो बैठ गया और मैंने उसको रुमाल दे दिया और उसने मुझे स्कूल बैग पकड़ा दिया. मैं थोड़ा सा ऊपर को उठी और सपोर्ट के लिए मैंने एक हाथ से रिक्शा के फ्रेम को पकड़ लिया और दूसरे हाथ से मैंने बैग पकड़ा हुआ था . थोड़ा ऊपर उठने से पीछे से मेरी स्कर्ट नीचे हो गयी और सीट को ढक दिया. पहले पहल सब ठीक ठाक रहा पर जब बारिश का मौसम आया तो मेरे लिए मुसीबत हो गयी. हमारे इलाक़े में बारिश के मौसम में रिक्शा में एक पॉलिथीन कवर लगा होता था जो पैसेंजर के सर से आगे तक ढका रहता था और साइड्स में खुला रहता था.मर्द तो दिन भर एक कच्छा पहनकर घूम सकते हैं लेकिन हम औरतें नहीं. मैं अपने उपचार के आखिरी पड़ाव में गुरुजी को नाराज नहीं करना चाहती थी. परिमल – लेकिन मैडम, मैंने तो चेक किया था वहाँ तो सिर्फ मंजू के कपड़े हैं. उसके बाद मुझे फिर से फिसलने से रोकने के बहाने उसने चालाकी से मेरी स्कर्ट को जांघों तक ऊपर करके मेरी नंगी जांघों को कस कर पकड़ लिया. मैं कुछ बोल नहीं पाई क्यूंकी उसने बड़ी चालाकी से ऐसा दिखाया जैसे वो मुझे फिर से फिसलने से रोकने के लिए ऐसा कर रहा है. ऐसा कहकर वो मेरी तरफ बीच में खिसक गया. उसकी बात से मैं हैरान हुई और शरमा गयी. मुझे तो बारिश बहुत तेज नहीं लग रही थी लेकिन पॉलिथीन कवर से साइड्स में पानी अंदर ज़रूर आ रहा था. मैंने स्कूल बैग सीट में रखा और अपनी स्कर्ट नीचे को खींची और अनमने मन से उसकी जांघों में बैठ गयी.


मुझे याद आया की उन्होंने कहा था की ये परिधान एक औरत के लिए पर्याप्त नहीं है. ये कोई साड़ी या सलवार कमीज जैसी पूरे बदन को ढकने वाली ड्रेस तो नहीं होगी लेकिन कुछ छोटी होगी. देखो तुम्हारी आंटी तुम्हें देखकर मुस्कुरा रही है. गुरुजी – रश्मि सफेद साड़ी को फर्श में फैला दो और काजल बेटी के बदन में चंदन का लेप लगाओ.

New hindi sex movie 2022 How to download hindi sex picture
काजल – लेकिन गुरुजी हम वहाँ शाम को कभी नहीं गये. हम स्कूल के बाद 3-4 बजे वहाँ जाते थे. काजल गहरी साँसें ले रही थी, जैसे की अगर कोई आदमी उसके ऊपर लेटे तो कोई भी औरत लेती. मैंने ख्याल किया उसकी आवाज़ कांप रही थी , शायद कामोत्तेजना की वजह से. लगता है अब नीचे फर्श पर कोई सिक्का नहीं बचा है. नटवर ने अंदर झाँकने के लिए एक हाथ से मेरी स्कर्ट ऊपर उठा रखी थी और दूसरे हाथ से सीट पोछने का बहाना कर रहा था.


अब गुरुजी काजल के बदन के ऊपर से उठ गये. मैंने देखा मुरझाई हुई अवस्था में भी उनका लंड केले के जैसे लटक रहा है. मैं उसी को गौर से देख रही थी तभी गुरुजी से मेरी नज़रें मिली और शरम से मैंने तुरंत अपनी आँखें नीचे कर ली. क्या गुरुजी ने मुझे अपने मूसल को घूरते हुए पकड़ लिया था ? अब गुरुजी ने अपनी नंगी गांड मेरी तरफ करके लिंगा महाराज और यज्ञ की अग्नि को प्रणाम किया.


लेकिन वो दिखने से ही थके हुए लग रहे थे और एक आध चुंबन लेकर सोना चाह रहे थे. लेकिन मैं तो चुदाई के लिए बेताब हो रखी थी. वैसे तो मैं , ज़्यादातर औरतों की तरह बिस्तर में पहल नहीं करती थी. पर उस दिन अपने पति को कामोत्तेजित करने के लिए बेशरम हो गयी थी.
उस नौकर के मुँह से अपने लिए ऐसा घटिया शब्द सुनकर अपमान से मेरी आँखों में आँसू आ गये. आज तक कभी भी किसी ने मेरे लिए ये शब्द इस्तेमाल नहीं किया था. इस लो क्लास आदमी के हाथों ऐसे अपमानित होकर मैं बहुत असहाय महसूस कर रही थी.

नौकर – मैं आपको बता रहा हूँ मैडम, पर किसी को मत बताना. ना जाने कितनी बार मैंने काजल दीदी को बिना कपड़े पहने बेड में लेटे हुए देखा है. गोपाल टेलर – मैडम , ये चोली बिना बाहों की है इसलिए बाँहों की नाप नहीं लेनी पड़ेगी.
मेरे मुँह से अपनेआप ये सवाल निकल गया और वो नौकर इसी बात को पूछने का इंतज़ार कर रहा था. नटवर – बेबी, जैसे फर्श में बैठती हो ना वैसे बैठो. उससे तुम्हारी स्कर्ट गीली नहीं होगी. गुरुजी अपने साथ ऐसी हाइ क्लास रंडी रखते हैं ? उससे झगड़ने की मेरी हिम्मत नहीं हुई.


उसके मेरे बदन से छेड़छाड़ करने से मेरी चूची में और मेरी पैंटी में अजीब सी सनसनाहट होने लगी थी. उसके बेहूदे सवाल से मेरा धैर्य समाप्त हो गया और मैं बाथरूम का दरवाज़ा खोलकर बाहर आ गयी. मैंने ख्याल किया की मुझे देखकर उस नौकर की आँखों में चमक सी आ गयी और वो मेरे चेहरे की तरफ नहीं देख रहा था बल्कि मेरे बदन को घूर रहा था. वो इतनी बेशर्मी से हवस भरी निगाहों से मुझे घूर रहा था की असहज महसूस करके मैंने अपनी नजरें झुका लीं . वो स्कर्ट मेरी मांसल जांघों पर टाइट हो रही थी इसलिए मैं ठीक से नहीं चल पा रही थी. मैंने बाएं हाथ से कमर पे स्कर्ट को पकड़ रखा था क्यूंकी स्कर्ट का बटन टाइट होने से नहीं लग पा रहा था.


फिर वो अचानक से मेरी छाती पे झुका और मेरे निप्पल को मुँह में भरकर चूसने और काटने लगा. मैंने हिचकिचाते हुए अपनी छाती से बाँहें हटाई और मैं अच्छी तरह से समझ रही थी की ये आदमी मुझे फिर से नंगी देखना चाहता है. वो मेरे लिए होपलेस सिचुयेशन थी और उसकी इच्छा पूरी करने के अलावा मेरे पास कोई चारा नहीं था.


हाँ, चूड़ियों की आवाज़ वहीं से आ रही थी. मैंने उसे आवाज़ देने की सोची फिर मुझे उत्सुकता हुई की उसके साथ कौन है ? क्यूंकी मुझे ड्राइंग रूम में समीर नहीं दिखा था. मैं बिना आवाज़ किए धीरे से आगे बढ़ी और बालकनी में झाँका.
मैंने उसकी तरफ मुड़कर आँखें चढ़ायीं. उसने अपना हाथ फिराना बंद कर दिया लेकिन ब्रा स्ट्रैप के ऊपर हाथ स्थिर रखा. गुरुजी ने अब काजल के पेट को पूरा चाट लिया था. गुरुजी जैसे जैसे ऊपर को बढ़ते जा रहे थे , अपने बदन को काजल के ऊपर खिसकाते जा रहे थे. हर एक अंग को चाटने के बाद वो जय लिंगा महाराज का जाप करते और फिर ऊपर को बढ़ जाते. काजल वही मंत्र बुदबुदा रही थी जो कुछ मिनट पहले गुरुजी ने उसे दिया था.


लेकिन फिर मुझे समझ आया की गुरुजी ने एकदम सही निशाना लगाया है. क्यूंकी अगर किसी औरत का पता लगाना हो की वो कामोत्तेजित है या नहीं तो ये बात उसके निप्पल सही सही बता सकते हैं. लिंगा महाराज से काजल की इच्छा कह देने के बाद गुरुजी काजल के बदन से उठ गये.


मैंने उसको थप्पड़ मारने के लिए हाथ उठाया तभी ………. गुप्ताजी ने जोर से मेरी बायीं चूची मसल दी. उसकी अँगुलियाँ ब्लाउज के बाहर से मेरी चूची के हर हिस्से को दबा रही थीं. उसका अंगूठा मेरे निप्पल को दबा रहा था. उत्तेजना से कुछ पल के लिए मेरी आँखें बंद हो गयीं और मेरी सिसकी निकल गयी.
उन्हें इस दृश्य को देखकर बहुत मज़ा आ रहा होगा की एक टीनएजर लड़की , तने हुए लंड की आकृति के लिंगा को मज़े से मुँह में चूस रही है. काजल ने अब अपना चेहरा ऊपर को उठाया और लिंगा से थोड़ा और द्रव्य बहकर उसके मुँह में चला गया. लिंगा को चूसते हुए काजल बहुत कामुक सी आवाज़ निकाल रही थी. मैं ज़्यादा विरोध नहीं कर पायी और धीरे धीरे समर्पण कर दिया. वो दोनों हाथों से मेरे नितंबों को दबा रहा था और मेरे पूरे चेहरे पर अपनी दाढ़ी चुभा रहा था. उसके हाथ मेरे अंगों को सिर्फ सहलाने और दबाने तक ही सीमित नहीं थे.


ब्रा में स्ट्रैप नहीं हैं और पीछे तीन हुक्स हैं. मैंने राहत की सांस ली और अब नाप देने के लिए मैं सहज महसूस कर रही थी. मुझे इस महायज्ञ परिधान के बारे में कुछ भी नहीं पता था और अभी भी मैं इसे लेकर थोड़ी चिंतित थी लेकिन मैंने अपने चेहरे से ये जाहिर नहीं होने दिया. गोपालजी मुस्कुराया और मुझे भरोसा हो गया की मेरी पैंटी की परेशानी अब नहीं रहेगी. मुझे हैरानी हो रही थी की मई एक मर्द के साथ खुलकर अपने अंडर गारमेंट्स की बात कर रही थी , लेकिन मंगल के यहाँ न होने से मुझे झिझक नहीं हो रही थी. मंजू – मैं सोच रही हूँ की गुरुजी से कहूँ की तंत्र के नियमों के अनुसार महायज्ञ के लिए शादीशुदा औरतों को कोई वस्त्र पहनने की अनुमति ना दें.


मैंने काजल की कमीज नीचे कर दी और उसने राहत की सांस ली. मैं थोड़ा साइड में खड़ी थी , मैंने ख्याल किया की काजल की पीठ में पीछे से रोशनी पड़ रही है. गुरुजी ने उसकी कमीज़ कमर तक ऊपर उठा दी थी तो उसके पतले सलवार पे रोशनी ऐसे पड़ रही थी की उसकी पैंटी दिख रही थी.
गाँव की देहाती लेडीज़ की खेतों में, जंगलों में और घर में चुदाई और गांड सेक्स के प्योर विलेज सेक्स विडियोस देखें. और आप को तो पता ही हैं की गांड की औरतों की चुदास कुछ ज्यादा ही होती हैं. 5 बार Darshan Raval ने हमें सिखाया कि सफेद स्नीकर्स में दुनिया को कैस… 7 हॉट Rhea Chakraborty की तस्वीरें जो इंटरनेट पर आग लगा देंगी…

New hindi sex movie 2022 How to download hindi sex picture

More read..

English bf movie Download ! English bf full movie Free bf movie English mein

New hindi sex movie 2022 How to download hindi sex picture

Fast and furious 9 full movie watch online free download

Movies wood Telugu movies Tamil, HD Latest new movies Free Download 2022


पेटीकोट के अंदर मेरे बड़े नितंब लगभग नंगे हो गये पर मैं गुरुजी के सामने अपने कपड़े एडजस्ट नहीं कर सकती थी इसलिए वैसी ही बैठी रही. नटवर – बेबी तुम्हारी तो पैंटी भी गीली लग रही है. मैं बीच में बैठ जाता हूँ, तुम मेरी गोद में बैठ जाओ और बैग साइड में रख दो. देखो बारिश तेज हो गयी है तुम साइड्स से भी भीग जाओगी. अब मैंने स्कर्ट को गोल फैलाकर अपनी टाँगों के ऊपर कर दिया. लेकिन सीट गीली होने से मेरी जाँघों के निचले हिस्से में गीलापन महसूस होने लगा और कुछ ही देर में मेरी पैंटी भी नीचे से गीली हो गयी.


उसका आदमी घर में मौजूद था और वो समीर के साथ टॉपलेस होकर खुली बालकनी में खड़ी थी. मैं तो अपने घर में कभी भी ऐसा नहीं कर सकती. लेकिन यहाँ पर नंदिनी सारी हदें पार कर रही थी. ऐसा कहते हुए उसने मुझे पकड़ने के बहाने से मेरी स्कर्ट के अंदर हाथ डाल दिया और मेरी पैंटी के बाहर से चूत को अंगुलियों से दबाने लगा. हालाँकि ये कुछ ही पल के लिए हुआ और उसने मेरे नितंबों को पकड़कर वापस सीट में बैठा दिया.


मैंने ब्रा के स्ट्रैप्स कंधों पर डाल लिए और पीठ पर हुक नहीं लगा तो ऐसे ही रहने दिया. गोपाल टेलर – अच्छा दीपू अब यहाँ देखो. पहले दो डिजाइन मैडम के अंतर्वस्त्रों के हैं लेकिन ये साधारण ब्रा पैंटी नहीं हैं जैसी हम रोज सिलते हैं. गोपाल टेलर – दीपू , कॉपी लाओ जिसमें डिजाइन बनाया है. मैडम, गुरुजी ने आपको बताया होगा लेकिन फिर भी एक बार डिजाइन देख लो उसके बाद मैं नाप लूँगा.


उसके जल्दबाज़ी में ब्लाउज पहन लिया था पर उसके सारे हुक खुले हुए थे और साड़ी भी यूँ ही ऊपर से लपेट ली थी. मुझे लगा की उसे कपड़े पहनने को थोड़ा और वक़्त देना चाहिए था. नंदिनी की सांस अटक गयी थी , वो समीर की तरह घूम गयी.
काजल मुँह खोलकर जोर से चीखी और कामोत्तेजना में उसने गुरुजी के सर के बाल पकड़ लिए. काजल की कुँवारी चूत बहुत टाइट थी और गुरुजी

का मूसल अंदर नहीं घुस पाया. अब गुरुजी ने एक हाथ से उसकी चूत के होठों को फैलाया और दूसरे हाथ से अपना लंड पकड़कर अंदर को धक्का दिया. गुरुजी ने एक बार बंद दरवाज़े की ओर देखा और फिर काजल के होठों के ऊपर अपने होंठ रखकर उसका मुँह बंद कर दिया. बल्कि मुझे तो लग रहा था की अनुभवी औरतों को भी गुरुजी के मूसल को अपनी चूत में लेने में कठिनाई होगी. गुरुजी की अँगुलियाँ काजल की चूत को छू रही थीं और अब आँखें बंद किए हुए काजल हल्की सिसकारियाँ लेने लगी. काजल ने अपने अंडरगार्मेंट्स की तरफ इशारा करते हुए पूछा. काजल मेरा चेहरा देखकर समझ गयी और अब उसने अपना सर वापस फर्श में रख लिया. अमरीकी राज्य नेब्रास्का में गे शादियों को क़ानूनी मान्यता मिली हुई है. 2015 में सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फ़ैसले के बाद से ऐसी शादियां हो रही हैं. लेकिन नेब्रास्का में सेक्शुअल ओरिएंटेशन के आधार पर होने वाले भेदभाव पर प्रतिबंध लगाने वाला कोई क़ानून मौजूद नहीं है. मैं भी गुरुजी के निर्देशों का प्रतिकार नहीं कर सकती. इसलिए जो भी उन्होंने आपसे सिलने को कहा है , मुझे वही पहनना पड़ेगा. मैं बिल्कुल सही वक़्त पर वहाँ पहुँची थी. अब समीर ने नंदिनी को अपने नज़दीक़ खींच लिया , नंदिनी का विरोध भी कमज़ोर पड़ने लगा. वो शराब पी रहा था और उसके पैरों के पास वही नौकर बैठा हुआ था जिसने मेरे साथ बदतमीज़ी की थी. मैं जानती थी की अगर इन्हें अब दूसरा मौका मिल गया तो ये कमीने मुझे नंगी कर देंगे और बिना चोदे जाने नहीं देंगे. मैंने सोचा की अब मुझे मालूम है की ये दोनों आदमी ड्राइंग रूम में बैठे हैं तो काजल का कमरा सेफ है.


गोपालजी साइड से मेरी साड़ी से ढकी हुई गाँड देख रहे थे और मैंने देखा की वो छोटा लड़का दीपक भी मेरी गांड देख रहा था. अबकी बार मैंने साड़ी एडजस्ट करने के बहाने बेशर्मी से अपनी चूत खुजा दी. गोपालजी ने ये देख लिया और मुस्कुराया. मैं बड़ी उत्सुकता से टेलर का मुँह देख रही थी और मेरे दिल की धड़कनें तेज हो गयी थीं. मेरा चेहरा देखकर गोपालजी का उत्साह भी बढ़ गया और वो विस्तार से किस्सा सुनाने लगा. और मूठ मारते समय मंगल का तना हुआ काला लंड मैं कैसे भूल सकती हूँ.


जिस तरह से उसने मेरी साड़ी उतार दी थी उससे मैं थोड़ी हक्की बक्की रह गयी थी लेकिन अभी हालत थोड़ी गंभीर थी इसलिए मैंने कुछ नहीं कहा. मैंने उसे दीवार के सहारे खड़ा किया और उसकी बैशाखी लाने गयी. चलते हुए मैंने अपने ब्लाउज के खुले हुए दोनों हुक लगा लिए और अपनी आधी खुली हुई चूचियों को ढक लिया. बिना साड़ी के चलना बड़ा अजीब लग रहा था ख़ासकर इसलिए क्यूंकी मैं जानती थी की गुप्ताजी की नजर मुझ पर ही होगी. मैंने बैशाखी उठाई और एक नजर मंदिर के दरवाज़े से बाहर देखा लेकिन वहाँ कोई नहीं था.

New hindi sex movie 2022 How to download hindi sex picture

New hindi sex movie


बॉलीवुड एक्ट्रेस कटरीना कैफ पति एक्टर विक्की कौशल से मिलने इंदौर आई हैं. डाइट को लेकर बेहद सतर्क रहने वाली कटरीना ने अपने शेफ को भी इंदौर बुला लिया है. शेफ ने खाना बनाया, तब जाकर कटरीना ने खाया. दूसरी ओर सारा अली खान की मां अमृता भी बेटी से मिलने इंदौर पहुंची हैं. रविवार को सब दोबारा शूटिंग में व्यस्त हो गए. यह घटना बेहद ही दिल दहलाने वाली है, आरोपियों ने सरकारी वाहनों तक में आग लगा दी …


और इस गुलाब की कली के कोमल बदन को महसूस कर रहे थे. लेकिन जल्दी ही गुरुजी ने अपनी भावनाओं पर काबू पा लिया और ज़ोर से मंत्र पढ़ते हुए दोनों हाथों से लिंगा पकड़कर काजल की चूचियों पर घुमाने लगे. अंत में गुरुजी ने काजल की चूचियों को लिंगा के आधार से ऐसे दबाया जैसे उनपर अपनी मोहर लगा रहे हों. गुरुजी काजल के पीछे खड़े थे और जैसे ही लिंगा काजल की कमर में पहुँचा , गुरुजी ने काजल के सलवार से ढके हुए गोल नितंबों के ऊपर से कमीज़ ऊपर उठा दी. स्वाभाविक रूप से काजल शॉक्ड हो गयी .


काजल के बदन में एक जगह पर लिंगा को लगाते और मंत्र पढ़ते फिर दूसरी जगह लगाते और मंत्र पढ़ते. ऐसा लग रहा था जैसे कोई जादूगर जादू कर रहा हो. सबसे पहले उन्होंने काजल के सर में लिंगा को लगाया फिर गर्दन में और फिर उसकी पीठ में. जब गुरुजी ने काजल की कमीज़ से ढकी हुई पीठ में लिंगा को छुआया तो काजल के बदन को एक झटका सा लगा.
मैं तुरंत नीचे झुकी और टॉवेल उठाने लगी. मैं फिर से अपनी चूत ढकने के लिए टॉवेल लपेटने लगी तो मेरे दाएं हाथ में पकड़ी हुई पैंटी नीचे गिर गयी. मैंने उस पर ध्यान नहीं देना चाहिए था क्यूंकी सामने खड़े नौकर ने मेरा पूरा नंगा बदन अच्छे से देख लिया था.

hindi sex picture


मेरे जैसी भरे पूरे बदन वाली औरत के लिए वो टॉप पूरी तरह से अनफिट था. मैंने उसे फिर से बाल्टी में डाल दिया और टॉवेल को फैलाकर अपनी चूचियों को ढक लिया. मैंने स्ट्रैपलेस ब्रा के बारे में सुना तो था पर पहले कभी पहनी नहीं. बल्कि मैंने किसी और को पहने हुए भी कभी नहीं देखा.
मैं भी अपनी भारी जाँघों से उसको लात मारने की कोशिश कर रही थी. उसका ज़्यादातर समय मेरे विरोध को रोकने की कोशिश में बर्बाद हो रहा था. अब वो मेरी रसीली चूचियों को एक एक करके मसलने लगा और उसने मेरे कड़े निपल्स को बहुत ज़ोर से मरोड़ दिया.


काजल – लेकिन गुरुजी , मेरा मतलब…..मैं इसको कैसे पहन सकती हूँ ? गुरुजी – रश्मि, बेल के पत्ते, दूध, गुलाब जल और शहद मुझे दो. मैं सिर्फ अपने फाइनल एग्जाम्स को पास करने के लिए प्रार्थना कर रही थी.
मैं उनकी बातों से मंत्रमुग्ध हो गयी. गुरुजी की ओजस्वी वाणी से मुझे कॉन्फिडेन्स भी आ रहा था. परिमल – मैडम अब आप गुरुजी के पास जाओ. काजल बोलते हुए अभी भी गुरुजी के बदन में झुकी हुई थी और जवाब देते हुए गुरुजी भी उसके नंगे पेट के निचले भाग में अँगुलियाँ फिरा रहे थे.


दीपू की इस बात से मुझे थोड़ा झटका लगा और मैंने गौर से उसके चेहरे की तरफ देखा. लग तो छोटा ही रहा है , मुझे ऐसा लगा की मासूमियत से ऐसा बोल दिया होगा. एक अच्छी बात जो मुझे उसमें लगी वो ये थी की बाकी मर्दों की तरह वो मेरे ख़ास अंगों को बिल्कुल भी नहीं घूर रहा था. इसलिए मैंने उसकी बात को नजरअंदाज कर दिया. गुरुजी थोड़ा रुके शायद मेरा रिएक्शन देखने के लिए. मैं अंदाज़ा लगाने की कोशिश कर रही थी की मुझे क्या पहनना होगा ?
}

Leave a Comment